World

ट्रंप की ईरान को चेतावनी, मेरे रहते नहीं बन पाएगा परमाणु ताकत; जारी रहेगा प्रतिबंध

वॉशिंगटन, प्रेट्र। ईरान (Iran) से जारी तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) ने देश को संबोधित किया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हमले के कुछ घंटे बाद अमेरिकी समयानुसार बुधवार सुबह अपने संबोधन में ट्रंप ने सभी अमेरिकी सैनिकों के सुरक्षित होने की बात कही। साथ ही ईरान पर नए आर्थिक प्रतिबंधों का एलान भी कर दिया। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका को अपनी सैन्य ताकत के इस्तेमाल की जरूरत नहीं है, उसके आर्थिक प्रतिबंध ही ईरान से निपटने के लिए काफी हैं।

ट्रंप ने यह भी कहा कि उनके राष्ट्रपति रहते ईरान परमाणु शक्ति संपन्न नहीं हो पाएगा। ट्रंप ने कहा कि हमें ईरान के साथ मिलकर ऐसा समझौता करना चाहिए, जो दुनिया को सुरक्षित बनाए। ट्रंप यह कहने से भी नहीं चूके कि अमेरिका ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर हो चुका है और उसे पश्चिम एशिया के तेल भंडार की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने ईरान से आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) के खिलाफ मिलकर लड़ने को कहा।

हमले में नहीं हुआ भारी नुकसान: ट्रंप

इस दौरान उन्होंने कहा कि ईरान के मिसाइल हमले में हमें कोई भारी नुकसान नहीं हुआ है और न ही किसी अमेरिकी की मौत हुई है। सिर्फ सैन्य ठिकाने को थोड़ा बहुत नुकसान पहुंचा है। ट्रंप ने एक बार फिर दोहराते हुए कहा कि ईरान को परमाणु ताकत बनने का अपना सपना छोड़ देना चाहिए।

व्हाइट हाउस से राष्ट्र के नाम संबोधन में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि जब तक मैं राष्ट्रपति हूं, ईरान को परमाणु हथियार रखने की अनुमति कभी नहीं दी जाएगी। अमेरिका के पास कई ताकतवर मिसाइलें हैं, लेकिन हम शांति चाहते हैं और उनका इस्तेमाल करना नहीं चाहते।

हमला करने की फिराक में था सुलेमानी

ट्रंप ने कहा कि ‘हमारी सेना ने दुनिया के शीर्ष आतंकी कासिम सुलेमानी को मारा। उसने आतंकी संगठन हिज्बुल्लाह को उसने ट्रेनिंग दी थी। मिडिल ईस्ट में उसने आतंकवाद को बढ़ाने का काम किया था। वह अमेरिकी अड्डों पर हमले की फिराक में था।’

अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर हमला

अमेरिका के ड्रोन हमले में ईरान के मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद से ही दोनों देशों के बीच तनाव अपने चरम पर है। ईरान ने इराक स्थित अमेरिकी सैन्य ठिकानों को निशाना बनाते हुए दर्जन भर से ज्यादा मिसाइलें दागी।

ईरान के हमले पर ट्रंप का ट्वीट

वहीं, इससे पहले इराक में अमेरिकी सैन्य बेस पर हमले के अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्विटर पर ऑल इज वेल (All is Well!) लिखा। ट्रंप ने इसी ट्वीट में आगे कहा कि घायलों और हताहतों की मदद की जा रही है। अब तक सब कुछ अच्छा चल रहा है। हमारे पास दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेना है। मैं इसको लेकर जल्द बयान दूंगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker