BusinessEntertainmentIndiaLife StyleMobile PhoneTech

मीडिया के सामने फूट-फूट कर रोने लगे BJP नेता, ये है कारण

जब दुखी, पीड़ित व्यक्ति फूट-फूट कर रोता है तो उसे देखने वालों का दिल द्रवित हो जाता है। उसकी समस्या के निदान के लिए यथासंभव कोशिश भी करता है। लेकिन जब कोई नेता सत्ता में हिस्सेदारी के लिए जीतोड़ प्रयास करता है लेकिन उसे असफलता हाथ लगती है तो वह भी दुखी पीड़ित की तरह फूट-फूट को रोने लगता है। लेकिन उनके आंसू पर शायद ही कोई आम आदमी होगा जिसका दिल पसीजेगा।

जब दुखी, पीड़ित व्यक्ति फूट-फूट कर रोता है तो उसे देखने वालों का दिल द्रवित हो जाता है। उसकी समस्या के निदान के लिए यथासंभव कोशिश भी करता है। लेकिन जब कोई नेता सत्ता में हिस्सेदारी के लिए जीतोड़ प्रयास करता है लेकिन उसे असफलता हाथ लगती है तो वह भी दुखी पीड़ित की तरह फूट-फूट को रोने लगता है। लेकिन उनके आंसू पर शायद ही कोई आम आदमी होगा जिसका दिल पसीजेगा। क्योंकि हमारे समाज में नेताओं की छवि ही ऐसी है। मई में कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। बीजेपी के नेता शशील नमोशी सोमवार को कलबुर्गी में मीडिया को संबोधित कर रहे थे और अचानक फूट-फूट कर रोने लगे क्योंकि उन्हें विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिला।

बीजेपी ने सोमवार को 82 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है। बीजेपी ने इससे पहले 72 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी।  बीजेपी ने अभी तक कुल 154 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है। इस सूची में दागी खनन व्यवसायी जी जनार्दन रेड्डी के बड़े भाई तथा पूर्व मुख्यमंत्री एस. बंगारप्पा के बेटे को भी टिकट दिया गया है। रेड्डी के भाई जी सोमसेखर बेल्लारी सिटी से चुनाव लड़ेंगे जबकि कुमार बंगारप्पा सोरब से चुनावी मैदान में उतरेंगे। शशील नमोशी को बीजेपी ने टिकट नहीं दिया। आपको बता दें कि जी जनार्दन रेड्डी अवध खनन के आरोपी है।

बीजेपी की दूसरी सूची में येदियुरप्पा के पुराने सहयोगी कृष्णैया शेट्टी को भी मालूर से टिकट दिया गया है। बीजेपी द्वारा जारी की गई लिस्ट में विजय नगर से एच. रविंद्र, शांति नगर से वासुदेव मूर्ति, केआर पुरा से नंदीश रेड्डी, सिरा से बीके मंजुनाथ, सागर से हरतालु हलप्पा, बेल्लारी सिटी से जी. सोमशेखरा रेड्डी के नाम शामिल हैं। राज्य में बीजेपी ने बीएस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद के रूप में पेश किया है और वे शिकारीपुरा से चुनाव में उतरेंगे। पहली सूची में  येदियुरप्पा, जगदीश शेट्टार और के एस ईश्वरप्पा जैसे वरिष्ठ नेताओं के नाम शामिल थे।  कर्नाटक में 224 सीटों के लिए 12 मई को विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। 15 मई को वोटों की गिनती की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker