India

रेलवे में नौकरी के लिए छात्रों का भारी प्रदर्शन, मुंबई लोकल की सेंट्रल लाइन बुरी तरह प्रभावित

मुंबई में रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर छात्रों ने रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया है. छात्रों का कहना है कि पिछले चार साल से रेलवे में कोई भर्ती नहीं हुई है. हम एक जगह से दूसरी जगह लगातार संघर्ष कर रहे हैं. 10 से अधिक छात्र आत्महत्या कर चुके हैं. हम ऐसा होने नहीं दे सकते. यहां से तब तक नहीं हटेंगे जब तक रेल मंत्री पीयूष गोयल हमसे आकर नहीं मिलते.

रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर छात्रों ने मुंबई में ‘रेल रोको आंदोलन’ शुरू कर दिया है. मुंबई लोकल की सेंट्रल लाइन पर 400 से 500 छात्र ट्रैक पर बैठकर प्रदर्शन कर रहे हैं. सीएसटी से कुर्ला और माटुंगा से दादर लाइन पर छात्रों के प्रदर्शन की वजह से ट्रेन की आवाजाही पर बुरी तरह प्रभावित हुई है. ऑफिस आवर होने की वजह से लोकल से चलने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. आपको बता दें कि मुंबई में ओला और उबर के ड्राइवर भी हड़ताल पर हैं.

छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिस और रेलवे सुरक्षा बल को तैनात किया गया है. मध्य रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि छात्रों ने आज सुबह करीब सात बजे रेल पटरी को जाम कर दिया जिससे माटुंगा और सीएसएमटी के बीच उपनगरीय के साथ- साथ एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन भी प्रभावित हुआ. अधिकारी ने बताया कि माटुंगा और सीएसएमटी के बीच सभी चार लाइनें प्रभावित हैं. पुलिस और रेलवे अधिकारी छात्रों के साथ बातचीत कर रहे हैं.

मध्य रेलवे के प्रमुख पीआरओ सुनील उदासी ने कहा, ”जीआरपी और आरपीएफ जवानों के साथ मिलकर मुंबई पुलिस छात्रों से बातचीत कर रही है और रेलवे की प्राथमिकता पटरी खाली कराना है.”

छात्रों का प्रदर्शन क्यों?
छात्र अपने हाथ में तख्तियां लेकर नारे लगाते हुए जीएम कोटा के तहत एक बार में निपटारा करने की मांग कर रहे हैं और उन्होंने कहा कि वे सरकार से नौकरी की मांग कर रहे हैं. छात्र ने कहा, ”पिछले चार साल से कोई भर्ती नहीं हुई है. हम एक जगह से दूसरी जगह लगातार संघर्ष कर रहे हैं. 10 से अधिक छात्र आत्महत्या कर चुके हैं. हम ऐसा होने नहीं दे सकते.”

एक अन्य छात्र ने कहा, ”हम यहां से तब तक नहीं हटेंगे जब तक रेल मंत्री पीयूष गोयल हमसे आकर नहीं मिलते. डीआरएम (मुंबई डिविजन के मंडल रेल प्रबंधक) से किए हमारे सभी अनुरोध अनसुने रहे हैं.” कई छात्रों का कहना है कि वो परीक्षा में पास हो चुके हैं, उन्हें ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है, लेकिन अब तक नियुक्ति पत्र नहीं मिला है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker