India

Indian Railways : रेलवे स्टेशन पर यात्री खरीद सकेंगे बेडशीट, पीपीई किट और सैनिटाइजर

जलज शर्मा, रतलाम। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए रेलवे ने इन दिनों ट्रेनों में यात्रियों को चादर और बेडशीट देना बंद कर दिया है। अब इसकी पूर्ति के लिए रेलवे ने अलग से तैयारी की है। वैसा भी रेलवे इन दिनों अपनी आय को बढ़ाने के लिए तरह-तरह के उपाय कर रहा है। इसी कड़ी में रेलवे स्टेशन पर कोविड कियोस्क बनाए जाएंगे। यहां यात्री अपने लिए बेडशीट, कंबल, पीपीई किट, मास्क, सैनिटाइजर आदि खरीद सकेंगे। मध्य प्रदेश स्थित रतलाम रेल मंडल के वाणिज्य विभाग द्वारा तैयार प्रस्ताव को डीआरएम विनीत गुप्ता ने मंजूरी दे दी है। रतलाम की ही एक फर्म को काम सौंपा गया है। मंडल में रतलाम के अलावा प्रदेश के इंदौर और उज्जैन स्टेशन पर यह कियोस्क खोले जाएंगे। इससे रेलवे को सालाना 3.60 लाख रुपये की आय भी होगी।

कोरोना संक्रमण के कारण यात्रियों को अपने साथ लाना होता है चादर और बेडशीट 

पूर्व में एक्‍सप्रेस, राजधानी और शताब्‍दी ट्रेनों के एसी कोच में यात्रियों को सफर के दौरान कंबल, बेडशीट और तकिया दिया जाता था। कोच अटेंडेंट संबंधित यात्रियों की बर्थ पर पहुंचकर यह सामग्री देने के बाद सफर खत्म होने पर वापस लेकर धुलाई के लिए भेज देते थे। मार्च में कोरोना संक्रमण बढ़ने पर रेलवे ने यह व्यवस्था बंद कर दी। ट्रेनों का परिचालन बंद होने के बाद जब दोबारा स्पेशल ट्रेनें और राजधानी एक्सप्रेस चलाई गई, तब से यात्रियों को अपने स्तर पर चादर व बेडशीट साथ लेकर चलने की गाइडलाइन जारी की गई थी।

कांबो पैकेट व फुटकर भी मिलेगी सामग्री

प्रस्ताव में जो सामग्री बेची जानी है, उसमें चादर, बेडशीट, तकिया खोल, चादर, पीपीई किट, मास्क, सैनिटाइजर, हैंड ग्लब्स व कोविड चश्मे भी शामिल रहेंगे। इन सामग्रियों की दर 50 से लेकर 250 रपये तक रहेगी। शर्तो के मुताबिक रेलवे कर्मचारी को छूट देना होगी, जबकि अन्य यात्रियों को भी निर्धारित दर पर ही सामग्री बेचना होगी।

ट्रेन ठहरने पर प्लेटफॉर्म पर बेच सकेंगे सामग्री

रेल मंडल के रतलाम और इंदौर में प्लेटफॉर्म नंबर 4 व उज्जैन में प्लेटफॉर्म नंबर 1 पर कियोस्क के लिए स्थान निर्धारित किया है। कियोस्क 6 गुणा 6 वर्गफीट का रहेगा। रेलवे को प्रति कियोस्क से हर माह 10 हजार रुपये किराया मिलेगा। तीनों कियोस्क के 3.60 लाख रपये आय होगी।

यह भी खास रहेगा

-कियोस्क पर चार से अधिक कर्मचारी नहीं रह सकेंगे।

-रेलवे कर्मचारी एवं स्वजनों को 10 प्रतिशत की छूट देना होगी।

-यात्रियों की सुविधा के लिए वे कोच के बाहर सामग्री बेच सकेंगे।

-कियोस्क पर आने वाले यात्रियों के तापमान की जांच का इंतजाम रहेगा।

कियोस्‍क के प्रस्‍ताव को दी गई मंजूरी 

रतलाम के डीआरएम विनीत गुप्ता का कहना है कि यात्रियों को सफर के दौरान चादर, बेडशीट सहित व कोविड सुरक्षा सामग्री उपलब्ध कराने के लिए कियोस्क के प्रस्ताव मंजूरी दे दी गई है। तय नियम व शर्तो के मुताबिक कियोस्क संचालन करवाया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker