HealthLife Style

गर्मियों में स्किन को चाहिए एक्स्ट्रा केयर

मौसम का प्रभाव सीधे आपकी त्वचा और बालों पर पड़ता है। अगर मौसम गर्मी का हो तो देखभाल और भी ज्यादा खास करनी होती है, क्योंकि पसीने, घमौरियों, चिपचिपाहट और लू की वजह से त्वचा की चमक खत्म होने लगती है। ऐसे में थोड़ी सी सावधानी और मेहनत आपके सौंदर्य की कमनीयता बनाए रख सकती है।

सूर्य की अल्ट्रावॉयलेट किरणों के दुष्प्रभाव से उम्र से पूर्व ही चेहरे, गले तथा खुली बांहों पर बारीक लकीरें तथा झुर्रियां नजर आने लगती हैं। अल्ट्रावॉयलेट किरणों से बचने के लिए नियमित रूप से सनस्क्रीन लोशन प्रयोग में लाएं। यह लोशन सौ प्रतिशत ऑयल फ्री हो जिससे त्वचा में जज्ब होकर उसे चिपचिपाहट से मुक्त रखे। घर से बाहर निकलने से पहले इस लोशन को चेहरे, हाथों और गले पर अवश्य लगाएं। इसके अलावा बाहर निकलते समय कैप, टोपी, छतरी तथा सनग्लॉसेज का प्रयोग करें।

आहार पर ध्यान

इन दिनों आहार पर विशेष ध्यान देना चाहिए जिससे त्वचा के सौंदर्य का संतुलन गड़बड़ाए नहीं। डायटीशियंस के अनुसार आजकल के मौसम में हल्के, सुपाच्य, तरल पदार्थो का सेवन अधिक करें। घर पर निकाला हुआ ताजे फलों का रस पिएं। नींबू, धनिया, पुदीना, आम का पना तथा लस्सी शरीर को ठंडक पहुंचाती है। इन दिनों आप जितना अधिक पानी पिएंगी, उतनी ही स्वस्थ व सुंदर नजर आएंगी।

फेसपैक का इस्तेमाल

तपिश, उमस और पसीने से चेहरे की रौनक समाप्त होने लगती है। इनसे बचने के लिए फेसपैक का इस्तेमाल करना फायदेमंद रहता है।

1. मुरझाए चेहरे को ताजगी देने के लिए एक चौथाई टी-कप दूध में आधा टीस्पून ग्लिसरीन, आधा टीस्पून गुलाबजल मिलाकर रुई या साफ व मुलायम सूती कपड़े से चेहरा कई बार साफ करें।

2. एक टेबलस्पून दही, एक टेबलस्पून नींबू का रस तथा एक टेबलस्पून संतरे का रस लेकर मिश्रण बनाएं और इसे चेहरे पर 20-25 मिनट लगाए रखें। फिर पानी से धो लें।

3. दही में खीरे का गूदा मिलाकर पेएट बनाएं। इस पेस्ट को चेहरे, गर्दन और हाथों पर करीब 25 मिनट लगाएं रखें। फिर पानी से धो लें।

4. मक्के के आटे को पानी में घोलकर या फेंटकर चेहरे पर मलें। इससे झाइयां ठीक हो जाती हैं और त्वचा निखर उठती है।

फेस स्क्रब

धूल के संक्रमण से बचने के लिए फेस स्क्रब का हफ्ते में एक बार अवश्य प्रयोग करें। इन्हें घर पर तैयार कर सकती हैं।

1. एक टेबलस्पून चावल के आटे को तीन टेबलस्पून दूध में घोलकर हल्के हाथ से चेहरे पर ऊपर की ओर तथा गोलाई में हाथ घुमाते हुए मलें। कुछ देर बाद पानी से धो लें।

2. एक टेबलस्पून चने की दाल रात को दूध में भिगो दें। सुबह इसे पीसकर स्क्रब की तरह प्रयोग करें।

3. बाजरे के आटे में दही मिलाकर चेहरे पर मलें। यह स्क्रब त्वचा को कमनीय बनाता है।

4. चेहरे को ताजगी देने के लिए सेब का पानी इस्तेमाल कर सकती हैं। एक सेब को बारीक काटकर एक लीटर पानी में एक तिहाई पानी रहने तक उबालें। ठंडा होने पर छानकर फ्रिज में रख लें। प्रतिदिन दो-तीन बार रुई की सहायता चेहरे पर लगाएं। कुछ समय बाद धो लें।

वाटर थेरेपी

इस थेरेपी द्वारा गर्मी की जलन व थकान दोनों ही दूर हो जाती है। इस थेरेपी को घर पर ही प्रयोग में लाया जा सकता है। सुबह और शाम दो बार साफ जल में केवड़ा, गुलाब, चमेली, मोंगरा के इत्र की कुछ बूंदे या यूडी कोलोन की कुछ बूंदें डालकर स्नान करें। बाथटब हो तो उसमें सुगंध का आनंद लेते हुए थोड़ा समय बिताएं। इत्र के स्थान पर ताजे फूलों का भी प्रयोग कर सकती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker