HealthIndia

इन 5 वजहों से मच्छर आपको काटते हैं ज्यादा, जानें डंक से बचने के 4 तरीके

मौसम का मिजाज़ बदलते ही मच्छरों ने एक बार फिर अपने जहरीले डंक के साथ दस्तक दे दी है. क्या कभी आपने गौर किया है कि मच्छरों का नुकीला डंक कुछ खास लोगों के ही खून का प्यासा क्यों होता है. मिसाल के तौर पर, दो दोस्त पार्क में एक साथ घूमने निकलते हैं. एक के शरीर को मच्छर छूते तक नहीं और दूसरा शरीर पर करीब 15 निशान लेकर घर लौटता है. इसकी वजह क्या है? क्यों कुछ खास लोग मच्छरों के टारगेट पर ज्यादा रहते हैं? आइए आपको इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं.

मेटाबॉलिक रेट

– आपका मेटाबॉलिक एक जटिल विषय है. लेकिन ये आपके शरीर द्वारा छोड़ी गई कार्बन डाईऑक्साइड को निर्धारित करता है. कार्बन डाईऑक्साइड की गंध भी मच्छरों को तेजी से इंसानों की तरफ आकर्षित करती हैं.

मादा मच्छर अपने ‘सेंसिंग ऑर्गेन्स’ से कार्बन डाइऑक्साइड गंध पहचान लेती है. एक स्टडी के मुताबिक, गर्भवती महिलाएं सामान्य इंसान की तुलना में 20 प्रतिशत ज्यादा कार्बन डाईऑक्साइड रिलीज करती है. यही कारण है कि मच्छर उन्हें ज्यादा काटते हैं.

स्किन बैक्टीरिया

– क्या आप जानते हैं आपकी स्किन में कई प्रकार के बैक्टीरिया छिपे होते हैं. वास्तव में ये इतनी खराब बात नहीं है लेकिन ये मच्छरों को आपके पास आने का निमंत्रण दे सकते हैं. एक हालिया स्टडी में ऐसा दावा किया गया है कि मच्छरों को कुछ खास प्रकार के बैक्टीरिया वाले इंसान ज्यादा पसंद आते हैं. जिन लोगों की त्वचा में कई प्रकार के बैक्टीरिया पाए जाते हैं, उन पर मच्छरों के हमले की संभावना कम होती है.

ब्लड टाइप

– आपने कई बार अपनी दादी मां को आपके मीठे खून के बारे में कुछ कहते सुना होगा. उनकी बात सही हो सकती है. साक्ष्य बताते हैं कि ‘ओ’ ब्लड ग्रुप के लोगों की तरफ मच्छर सामान्य लोगों की तुलना में ज्यादा आकर्षित होते हैं. दूसरे नंबर पर बारी आती है ‘ए’ ब्लड ग्रुप के लोगों की. ये दोनों ही ब्लड ग्रुप मच्छरों के लिए किसी चुम्बक की तरह काम करते हैं.

हल्के रंग के कपड़े

– मच्छर अक्सर किसी ग्राउंड के आस-पास पनपते हैं. आप तक पहुंचने के लिए वे गंध और दृष्टि के संयोजन का इस्तेमाल करते हैं. इसलिए इनसे बचने के लिए हो सके तो हल्के रंग के कपड़े पहनकर ही बाहर निकलें.

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker